रामलला के दर्शन से पहले करें देवस्थानम में पूजन-अर्चन

अयोध्या। रामजन्मभूमि पर भव्य मंदिर तो निर्मित हो ही रहा है लेकिन रामलला के दर्शन मार्ग पर ही द्रविड़ शैली में निर्मित रामलला देवस्थानम पूर्ण हो चुका है। यहां 31 मई से मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा का अनुष्ठान प्रारंभ होगा। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे। देवस्थानम में श्रीराम, सीता, भरत, लक्ष्मण, शत्रुघ्न एवं हनुमान जी के विग्रहों की प्राण-प्रतिष्ठा का अनुष्ठान चार जून तक चलेगा। इसका निर्माण प्रख्यात कथाव्यास एवं रामानुजीय परंपरा के शीर्ष आचार्य जगद्गुरु डा. राघवाचार्य करा रहे हैं। उन्होंने तीन वर्ष पूर्व करीब एक एकड़ परिसर में देवस्थानम का शिलान्यास रामलला की इस प्रार्थना के साथ किया था कि देवस्थानम का निर्माण पूरा होते-होते रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो सकेगा और आज देवस्थानम की पूर्णता के साथ उनकी यह प्रार्थना भी पूरी भव्यता से फलीभूत हो रही है।