असर्फी अस्पताल में बीजेपी नेता रमेश और गणेश पांडेय के रिश्तेदारों की गुंडई, कर्मचारियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

धनबाद (झारखंड)। जिले के असर्फी अस्पताल के कर्मचारियों को भाजपा नेता रमेश पांडेय और उनके भाई गणेश पांडेय के रिश्तेदारों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। बचाव के लिए पहुंची पुलिस पर भी हमला किया गया। आरोप है कि सब इंस्पेक्टर अमर की वर्दी से बैच नोंच लिया। सर्विस रिवाल्वर भी छीनने का प्रयास किया गया। टाइगर जवानों के साथ भी मारपीट की गई। अस्पताल प्रबंधन के साथ-साथ पुलिस की ओर से भी रमेश पांडेय के भाई बिट्टू पांडेय, विशाल पांडेय सहित छह नामजदों के खिलाफ धनबाद थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई। गणेश यादव के बॉडीगार्ड मनोज कुमार सिंह और चालक राहुल कुमार को पिस्टल के साथ पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने पिस्टल, सात गोलियों के अलावा मौके से दो स्कॉर्पियो को जब्त किया गया है। घटना की जानकारी पर डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर अरविंद कुमार सिन्हा और इंस्पेक्टर विनय कुमार पुलिस असफरों व पुलिस जवान के साथ मौके पर पहुंचे। असर्फी की डॉ स्वाति ने बताया कि रमेश पांडेय के भाई मिंटू कुमार पांडेय की पुत्री स्वीटी पांडेय पिछले चार दिन से एनआईसीयू में भर्ती थी। गुरुवार को बच्ची को डिस्चार्ज किया जाना था।
बच्ची को देखने के लिए रमेश पांडेय के छोटे भाई मिंटू पांडेय अन्य रिश्तेदार व सहयोगी सुबह अस्पताल पहुंचे थे। उन्होंने मुख्य गेट के पास गाड़ी खड़ी कर दी। गेट पर तैनात अस्पतालकर्मी विमल कुमार शर्मा ने जब गाड़ी हटाने को कहा तो पांडेय के सहयोगी ने उसे थप्पड़ जड़ दिया। गार्ड से कहा गया कि मरीज से पैसा क्यों मांग रहे हो। बीच-बचाव में मैनेजर संजय सिंह पहुंचे और मामले को शांत कराया। इसके बाद बच्ची को देखने पहुंचे लोगों ने मैनेजर से कह कर अस्पताल का एक केबिन 403 खुलवाया, जहां जाकर लोग बैठ गए। कुछ लोग बच्ची को देखने के लिए आईसीयू पहुंचे। वहां बच्ची नहीं दिखी। कर्मचारी से पूछा तो बताया गया कि वह एनआईसीयू में भर्ती है।