पत्नी को ससुराल छोडऩे गया था साले ने कहा लूट करने चलो, पब्लिक ने पीटकर की हत्या

 

अलीगढ़/अकराबाद। अकराबाद थाना क्षेत्र की पनैठी चौकी के पास भीड़ द्वारा पीटे गए लुटेरे की मंगलवार तडक़े जेएन मेडिकल कालेज में उपचार के दौरान मौत हो गई। डॉक्टरों के पैनल द्वारा वीडियोग्राफी की निगरानी में किए गए पोस्टमार्टम में सिर में गंभीर चोट लगने से मौत का खुलासा हुआ है। पुलिस ने मृतक के भाई की तहरीर पर तीन नामजद व कुछ अज्ञात के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। अकराबाद थाने की पनैठी चौकी से 150 मीटर की दूरी पर सोमवार की शाम 4.30 बजे करीब रेनू निवासी पनैठी के साथ एक बाइक सवार दो बदमाशों ने मोबाइल और जंजीर लूट की वारदात की। महिला के शोर मचाने पर ग्रामीणों ने एक लुटेरों को घेर लिया जबकि एक भाग निकला। पकड़े गए लुटेरे को पीटकर गंभीर हालत में पुलिस को सौंप दिया गया। लुटेरे की पहचान 27 वर्षीय रवि पुत्र सुखराम निवासी नगला बंजारा, मीरपुर, हरदुआगंज के तौर पर हुई। पुलिस ने उसे सीएचसी अकराबाद में भर्ती कराया। जहां से डाक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर किया। वहां से जेएन मेडिकल कालेज रेफर किया गया। मंगलवार तडक़े रवि की उपचार के दौरान मौत हो गई। मृतक रवि के भाई चमन ने बताया कि अकराबाद के गांव महमूदपुर की तुलसी के साथ रवि का विवाह हुआ था। उसके दो बच्चे भी हैं। सोमवार को वह अपनी पत्नी तुलसी व बच्चों को लेकर महमूदपुर गया था। वहां उसे साले अशोक ने ही उसे लूट के लिए तैयार किया था। घटना के बाद अशोक वहां से भाग निकला।
रात को 10 बजे करीब महमूदपुर में पहुंचा। वहां एक ग्रामीण से उसकी लड़ाई भी हो गई और भाग निकला। रवि को लेकर बताया कि वह कपड़े की फेरी लगाकर अपने परिवार का पाल रहा था। पिता भी कपड़े ही फेरी लगते हैं। सात भाई-बहनों में वह तीसरे नंबर का था। लूट के दौरान जो बाइक इस्तेमाल की गई, वह भी रवि की ही थी। अकराबाद पुलिस ने बताया कि रवि की मौत और मारपीट के वायरल वीडियो के आधार पर मुकदमे की सूचना पर नामजद आरोपी गांव से फरार हो गए हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है।