फर्जी वीजा व पासपोर्ट के साथ अमेरिकी नागरिक गिरफ्तार

 

महराजगंज। नेपाल से सटी सोनौली सीमा पर तैनात आब्रजन विभाग के अधिकारियों ने अमेरिका के एक नागरिक को फर्जी वीजा व पासपोर्ट की आशंका पर नेपाल जाने से रोक दिया। देर रात तक चली जांच में अमेरिका के नागरिक के पास मिले चार पासपोर्ट छेड़छाड़ युक्त व कूटरचित पाए गए। उसके पास मिला कामगार वीजा भी फर्जी पाया गया। आब्रजन विभाग ने अमेरिकी नागरिक को पुलिस के हवाले किया गया है।
आब्रजन कार्यालय सोनौली से मिली जानकारी के मुताबिक एलन बायड नाक्स निवासी 135 फोंट ग्रोव आरडी स्लिंगरलैंड, अमेरिका 27 जून वर्ष 2015 में पहली बार कामगार वीजा पर भारत आया था। फिर कुछ माह बाद वह वापस अमेरिका चला गया। वर्ष 2016 में वह दोबारा भारत आया। उसके वीजा की अवधि 15 जुलाई 2016 तक थी। लेकिन वह वापस जाने की बजाए भारत में ही रह रहा था।
नेपाल से अमेर?िका जाने की कर रहा था तैयारी
इधर फिर वह अमेरिका जाने के लिए नेपाल जाना चाह रहा था। जिसके लिए उसने पासपोर्ट पर मुंबई एयरपोर्ट से फर्जी आगमन मुहर लगवाया। वीजा में भी कूटरचित बदलाव किए। बीते छह जून को उसने रक्सौल बार्डर से नेपाल जाने का प्रयास किया। लेकिन उसे सफलता नहीं मिल पाई।
सोनौबी बार्डर के रास्ते नेपाल जाने की फिराक में था
रक्सौल बार्डर से नेपाल जाने में असफल रहने पर वह सोनौली बार्डर पर पहुंचा। जहां उसे पकड़ लिया गया। इंस्पेक्टर सोनौली मनोज कुमार राय ने बताया कि अमेरिकी नागरिक को गिरफ्तार किया गया है। उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।