गोपालगंज में पैसेंजर ट्रेन में लगाई आग, नवादा में भाजपा दफ्तर फूंका

पटना। बिहार में लगातार दूसरे दिन केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में आर्मी भर्ती के कैंडिडेट प्रदर्शन कर रहे हैं। सहरसा, जहानाबाद, नवादा, मुंगेर, बक्सर समेत अन्य जिलों में अभ्यर्थियों ने रेलवे ट्रैक और हाईवे जाम कर दिए हैं। इससे कई रूटों पर रेल सेवा प्रभावित हुई है। राज्यरानी एक्सप्रेस, वैशाली एक्सप्रेस समेत अन्य पैसेंजर ट्रेनों को रोकना पड़ा। आरा में रेलवे स्टेशन पर स्थित दुकानों में लूटपाट की खबर आई है। बेलागंज में गया-पटना पैसेंजर ट्रेन को रोककर उसमें तोडफ़ोड़ की गई। नवादा में कई जगहों पर आगजनी और तोडफ़ोड़ की गई है। यहां देखें अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन के लाइव अपडेट्स-
गुरुवार सुबह से बिहार के छपरा में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बाद दोपहर बाद हालात थोड़ी सामान्य हुई है। छपरा में रेलवे ट्रैक पर से प्रदर्शनकारी जा चुके हैं। जिसके बाद रेलवे परिचालन को शुरू कर दिया गया है।
बिहार के आरा जिले में अग्निपथ अग्निवीर योजना को लेकर विरोध प्रदर्शन के दौरान जाम किए गए रेलवे ट्रैक खोल दिए गए हैं। आरा में रेल ट्रैक खाली होने के बाद यहां की लाइन पर ट्रेनों का परिचालन शुरू हो गया है।
सुपौल में सेना की ओर से 4 साल के लिए युवाओं को अग्निवीर के तौर पर भर्ती करने वाली अग्निपथ स्कीम के विरोध में युवाओं ने ट्रेनर दिनेश कुमार के नेतृत्व में बाजार के मध्य से गुजरने वाली एनएच 327 ई पर चिलोनी नदी पुल पर करीब दो घंटे तक जामकर टायर जलाकर आगजनी की गई। भारतीय सेना में बहाली के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाई गई नई नीति अग्निपथ को अग्निपरीक्षा से गुजरना पड़ रहा है। इसके विरोध में बिक्रमगंज में छात्र सडक़ पर उतर गए। केंद्र सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए सेना भर्ती की नई नीति को वापस करने की मांग छात्रों द्वारा किया गया। शहर के तेंदूनी चौक को छात्रों ने जाम कर दिया।