21 जून को योग दिवस के मौके पर यूपी में 75,000 जगहों पर होगा सामूहिक योगाभ्यास

 

लखनऊ। 21 जून को आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर यूपी में 75,000 स्थानों पर सामूहिक योगाभ्यास होगा। इस विशाल योग कार्यक्रम में 58 हजार ग्राम पंचायत और 14 हजार नगर वार्ड के नागरिक शामिल होंगे। सामूहिक योगाभ्यास के लिए देश के 75 एतिहासिक स्थलों को चुना गया है जिनमें से 6 स्थल यूपी में हैं। इस बाबत प्रदेश सरकार तैयारियों में जुट गई है। सीएम आवास पर हुई मीटिंग के बाद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस बार अंतराष्ट्रीय योग दिवस की थीम मानवता के लिए योग निर्धारित की गई है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में आयोजित हो रहे योग दिवस में 3.50 करोड़ लोगों को जोडऩे का लक्ष्य है।
योग दिवस कार्यक्रम का लाइव प्रसारण किया जाएगा। यूपी की जिन 6 एतिहासिक जगहों को चुना गया है उनमें सारनाथ, रेजीडेंसी, अयोध्या, कुशीनगर, हस्तिनापुर और फतेहपुर सीकरी शामिल है। इसके अलावा राजभवन लखनऊ, त्रिवेणी संगम प्रयागराज, झांसी किला, मथुरा, विंध्यवासिनी धाम, गोरखनाथ मंदिर, काशी विश्वनाथ धाम, चित्रकूट और श्रावस्ती में सामुहिक योगाभ्यास कार्यक्रम किया जाएगा। गौरतलब है कि 27 सितंबर 2014 को पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अंतराष्ट्रीय योग दिवस की अवधारणा का प्रस्ताव रखा गया था। इसके बाद 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र ने आधिकारिक तौर पर 21 जून को अंतराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में घोषित कर दिया था। इस बार कोरोना महामारी के दौरान योग की भूमिका को दर्शाने के लिए इस बार की थीम मानवता के लिए योग विषय रखा गया है।