एकनाथ शिंदे 25 विधायकों के साथ गुजरात में, सीएम का फोन नहीं उठा रहे, राउत ने कहा- कोई भूकंप नहीं आने वाला

मुंबई/सूरत। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार पर संकट गहरा गया है। सूत्रों के मुताबिक राज्य के कद्दावर मंत्री एकनाथ शिंदे 25 विधायकों के साथ गुजरात चले गए हैं। इनमें शिवसेना के 15 विधायक शामिल हैं, जबकि निर्दलीय और छोटी पार्टियों के 10 विधायक हैं। शिवसेना में लगातार हो रही उपेक्षा से शिंदे नाराज हैं। वे सोमवार शाम से ही मुख्यमंत्री उद्धव का फोन भी नहीं उठा रहे हैं। हालांकि, संजय राउत ने दावा किया है कि शिंदे से संपर्क हो गया है।
संजय राउत ने कहा- महाराष्ट्र में कोई भूकंप नहीं आएगा
राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा है कि महाराष्ट्र में कोई भूकंप नहीं आएगा। कुछ विधायकों को गुमराह किया गया है, जिससे संपर्क नहीं हो पा रहा। उन्होंने कहा कि सूरत में जो विधायक हैं, उन्हें आने नहीं दिया जा रहा है। राउत ने कहा कि सबकी घेराबंदी कर दी गई है। सभी विधायक आना चाहते हैं और वे हर संघर्ष में शिवसेना के साथ रहे हैं।
सूरत के ली मेरिडियन होटल में रुके हैं सभी विधायक
दैनिक भास्कर को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सभी विधायक सूरत के ली मेरिडियन होटल में रुके हैं। सभी विधायक आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बड़ी घोषणा कर सकते हैं। वे दोपहर 2 बजे होटल से ही प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। विधायकों को सूरत लाने में भाजपा के दो बड़े दिग्गज नेताओं के नाम सामने आ रहे हैं।
सूत्रों के अनुसार शिंदे समेत शिवसेना के 15 विधायक सूरत के होटल में रुके हैं। इनमें शहाजी बापू पाटील, महेश शिंदे, भरत गोगावले, महेंद्र दळवी, महेश थोरवे, विश्वनाथ भोईर, संजय राठौड, संदीपान भुमरे, उदयसिंह राजपूत, संजय शिरसाठ, रमेश बोरणारे, प्रदीप जैस्वाल, अब्दुल सत्तार और तानाजी सावंत शामिल हैं।
अगर विधायक बागी हुए, तो गिर जाएगी महाराष्ट्र सरकार?
महाराष्ट्र में अगर शिवसेना के 15 विधायक बागी हुए, तो सरकार गिर सकती है। दरअसल, राज्य में उद्धव सरकार के पास 153 विधायकों का समर्थन है। सरकार बनाने के लिए 144 विधायक चाहिए, क्योंकि 1 सीट अभी खाली है। अगर, शिवसेना में फूट होती है, तो कांग्रेस के भी कुछ विधायक पाला बदल सकते हैं।