रामघाट पर लोगों ने योग कर लिया नदियों के संरक्षण का संकल्प

गोरखपुर। राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (एनएमसीजी) के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर मंगलवार को गंगा की सहायक नदी राप्ती नदी के रामघाट पर ‘घाट पर योग आयोजित हुआ। जि़ला गंगा समिति गोरखपुर, गोरखपुर वन प्रभाग एवं हेरिटेज फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में सुबह 6 बजे से 8 बजे तक योग अभ्यास के साथ सभी ने नदियों के संरक्षण का संकल्प लिया।
रामघाट पर योग करने मुख्य वन संरक्षक गोरखपुर मण्डल भीमसेन, डीएफओ अविनाश कुमार, हेरिटेज फाउंडेशन की संरक्षिका डॉ अनिता अग्रवाल, मनीष चौबे, इम्तियाज खान, क्षेत्रीय वन अधिकारी मुख्यालय सुधीर कुमार, क्षेत्रीय वन अधिकारी खजनी दिनेश कुमार चौरसिया, सहजनवा एपी सिंह, उप क्षेत्रीय वन अधिकारी रामधारी, वन दरोगा सूरज शर्मा एवं महेंद्र प्रताप सिंह, स्टोनो रामेश्वर यादव, स्टोनो अनिल राव, बीरबल, सुरेंद्र, महेश, योग प्रशिक्षक मनोज कुमार सिंह, केएम पाण्डेय, घनश्याम सिंह बघेल समेत 50 के करीब लोगों ने योगाभ्यास किया। इसके पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मानवता के लिए योगसंबोधन को सभी ने लाइव सुना। योग प्रशिक्षक मनोज कुमार सिंह एवं केएम पाण्डेय ने प्राणायाम और आसन की विभिन्न योग क्रियाओं का अभ्यास कराया। उनके बारे में विस्तार से जानकारी दी। प्रभागीय वन अधिकारी विकास यादव ने कहा कि ‘घाट पर योग गंगा एवं उसकी सहयोगी नदियों की साफ सफाई के अभियान के साथ लोगों का जुड़ाव बढ़ाना है। उधर पर्यावरण एवं वन्यजीव संरक्षण के क्षेत्र में कार्यरत संस्था हेरिटेज फाउंडेशन की संरक्षिका डॉ अनिता अग्रवाल का कि योग और नदिया हमारे अध्यात्म एवं संस्कृति दोनों से ही जुड़ी हैं। स्वच्छता एवं पवित्रता भी इनका अनिवार्य अंग हैं। ऐसे में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर रामघाट पर ‘घाट पर योग की परिकल्पना अदभुत है।