संजय राउत की धमकी के बाद सडक़ों पर तोडफ़ोड़

 

 

मुंबई। महाराष्ट्र में शिवसैनिकों ने हंगामा करना शुरू कर दिया है। एकनाथ शिंदे के समर्थक विधायक 58 वर्षीय तानाजी शिंदे के कार्यालय में तोडफ़ोड़ हुई है। साथ ही उनके कारोबार को भी नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गई है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने घटना का वीडियो जारी है, जिसमें शिव सैनिक ऑफिस में बुरी तरह से तोडफ़ोड़ करते नजर आ रहे हैं। पुणे पुलिस के पीआरओ ने कहा कि तानाजी सावंत के कार्यालय में राजनीतिक संकट और तोडफ़ोड़ के बीच पुणे पुलिस ने अलर्ट जारी किया और सभी पुलिस स्टेशनों को शहर में शिवसेना नेताओं से संबंधित कार्यालयों में सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा है। वहीं, मुंबई पुलिस ने भी हाई अलर्ट जारी किया है और सभी पुलिस थानों से शहर के सभी राजनीतिक कार्यालयों में सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा है। यह निर्देश दिया गया है कि अधिकारी स्तर के पुलिसकर्मी अपनी सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक राजनीतिक कार्यालय का दौरा करेंगे। शिवसेना नेता संजय मोरे ने सीधे धमकी देते हुए कहा, हमारी पार्टी के कार्यकर्ता ने तानाजी सावंत के कार्यालय में तोडफ़ोड़ की। प्रमुख उद्धव ठाकरे को परेशान करने वाले सभी देशद्रोही और बागी विधायकों को इस प्रकार की कार्रवाई का सामना करना होगा। उनके कार्यालय पर भी हमला होगा, किसी को बख्शा नहीं जाएगा। शिवसेना नेता संजय राउत ने 38 विधायकों के परिवार के सदस्यों की सुरक्षा वापस लेने पर धमकी भरा बयान दिया। उन्होंने एकनाथ शिंदे के पत्र पर जवाब देते हुए कहा, आप विधायक हैं, इसलिए आपको सुरक्षा दी गई है। आपके परिवार के सदस्यों को समान सुरक्षा नहीं दी जा सकती है।