दो से तीन दिन ही विपक्ष में हैं, केन्द्रीय मंत्री ने दिए सरकार बनाने के संकेत

नई दिल्ली। महाराष्ट्र का राजनीतिक संकट और गहरा गया। शिवसेना के कई कार्यकर्ता महाराष्ट्र और दिल्ली में पार्टी के विद्रोहियों के खिलाफ सडक़ों पर उतर आए। उद्धव ठाकरे और बागी नेता एकनाथ शिंदे के बीच शिवसेना के नियंत्रण की लड़ाई के बीच दिन भर दावे और प्रतिवाद सामने आते रहे। इस बीच, डिप्टी स्पीकर की अयोग्यता नोटिस को लेकर शिंदे खेमे ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। डिप्टी स्पीकर की ओर से जारी अयोग्यता नोटिस और अजय चौधरी को विधायक दल का नेता बनाए जाने को चुनौती देते हुए दो याचिकाएं दायर की गई हैं। सुप्रीम कोर्ट की अवकाश पीठ और रजिस्ट्रार के सोमवार को सुबह 10.30 बजे शिंदे खेमे की याचिका पर सुनवाई करने की संभावना है। दो से तीन दिन ही विपक्ष में हैं, सरकार बनाने के संकेत
महाराष्ट्र में जारी संकट के बीच भाजपा ने पहली बार सरकार बनाने के संकेत दिए हैं। केंद्रीय मंत्री राव साहेब दानवे ने कहा कि मैं अब भी दो से तीन दिन तक विपक्ष में हूं। उनके इस बयान को सरकार बनाने के संकेत के तौर पर देखा जा रहा है।