सीएम योगी से गोरखनाथ मंदिर में मिले बिकरू कांड के बाद निलंबित आईपीएस, जनता दर्शन में उमड़ी फरियादियों की भीड़

Listen to this article

गोरखपुर। बिकरू कांड के बाद निलंबित आइपीएस अनंतदेव सीएम योगी आदित्यनाथ से मिले। उधर, गोरखनाथ मंदिर के हिंदू सेवाश्रम में जनता दर्शन में बड़ी संख्या में फरियादी पहुंचे। सीएम योगी ने कैम्प कार्यालय में पंहुचे कुछ फरियादियों की समस्याएं सुनी। उनके निर्देश पर अधिकारियों ने फरियादियों की समस्या सुनी और समाधान का आश्वासन दिया।
मंदिर में की पूजा- अर्चनामुख्यमंत्री सुबह शिवावतार महायोगी गुरु गोरखनाथ के दरबार में पहुंचे। विधि-विधान से उनकी पूजा-अर्चना की। अखंड ज्योति की पूजा की। इसके बाद मंदिर के परिक्रमा पथ में देवी- देवताओं का दर्शन कर वह अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ समेत नाथ परंपरा के सभी गुरुओं के समाधि स्थल पर गए। उनका दर्शन कर मंगल कामना की।
गायों को खिलाया गुड़ व चना
इसके बाद गोशाला में जाकर उन्होंने गायों को गुड़ और चना खिलाया। उनकी आवाज सुनकर गाएं, नंदी व बछड़े दौड़े चले आए। कुछ गोवंश रंभाते हुए उन्हें अपने पास बुलाने लगे। सीएम योगी भी उनका स्नेह देख निहाल हो गए। बरबस बोल पड़े- ‘अरे अरे देखो-देखो कैसे-कैसे दौड़ते आ गए। मुख्यमंत्री करीब 15 मिनट तक गोशाला में रहे। पूरी गोशाला का भ्रमण किया। तत्पश्चात बलिया में आयोजित बलिदान दिवस समारोह में शामिल होने के लिए रवाना हो गए।
गोशालाओं में किए गए विशेष आयोजन श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रदेश के सभी गोआश्रय स्थल, कान्हा उपवन एवं वृहद गोशालाओं में विशेष आयोजन किए गए। गोरखपुर की 35 गोशलाओं में 6000 के करीब निराश्रित गोवंश की जन्माष्टमी पर विशेष सेवा की गई। जनता दर्शन में गोरखपुर के अलावा मऊ, बस्ती समेत अनेक जिलों से फरियादी आए थे। सुबह चार बजे से ही लंबी लाइन लग गई थी। तीन सौ से अधिक फरियादी पहुंचे थे। ज्यादातर मामले जमीन व पुलिस से संबंधित थे।