पूर्व बीडीसी सदस्य व उनकी पत्नी को मारी गोली: एक आरोपी को पकड़ ग्रामीणों ने पीटा

Listen to this article

गोरखपुर। पिपराइच इलाके में लेनदेन के विवाद में कार सवार युवकों ने शनिवार की शाम पूर्व बीडीसी व उनकी पत्नी को गोली मार दी। मौके पर चीख पुकार सुनकर पहुंचे गांव के लोगों ने दौड़ाकर एक आरोपित को पिस्टल समेत पकड़ लिया। कार सवार दो आरोपित मौके से भाग निकले। पिपराइच पुलिस ने दंपती के साथ ही ग्रामीणों की पिटाई में घायल हुए आरोपित को मेडिकल कालेज में भर्ती कराया है।

गोपालपुर गांव के रहने वाले पूर्व बीडीसी प्रदीप यादव व उनकी पत्नी रीतू शनिवार की शाम चार बजे बरामदे में बैठे थे।इसी दौरान शाहपुर के बशारपुर निवासी अंकुर सिंह अपने साथी मोहित व भोलू के साथ कार से पहुंचा। आरोप है कि प्रदीप को गाली देते हुए अंकुर साफ्टवेयर बनवाने के लिए दिए गए 50 हजार रुपये मांगने लगा।विरोध करने पर पिटाई कर दी। रीतू ने पकड़ने का प्रयास किया तो अंकुर ने पिस्टल से पेट में दाएं तरफ गोली मार दी। प्रदीप ने शोर मचाया तो उसके भी पेट में दाएं तरफ गोली मार दी।

चीख- पुकार सुनकर पहुंचे ग्रामीण

दंपति की चीख पुकार व गोली चलने की आवाज सुनकर पहुंचे गांव के लोगों ने अंकुर व उसके साथियों को घेर लिया। घटना के बाद मोहित व भोलू कार लेकर भाग निकले। पैदल भाग रहे अंकुर को गांव के लोगों ने घेर लिया।पिस्टल समेत पकड़कर पीटने के बाद पिपराइच पुलिस को सिपुर्द कर दिया।

एसपी नार्थ मनोज अवस्थी ने बताया कि लेनदेन के विवाद में मारपीट व फायरिंग हुई है। एक आरोपित को पिस्टल समेत पकड़ लिया गया है। कार लेकर भागे अन्य आरोपितों की तलाश चल रही है।

गुलरिहा क्षेत्र का रहने वाला है अंकुर

दंपति को गोली मारने का आरोपित अंकुर सिंह मूल रुप से गुलरिहा थानाक्षेत्र के फुलवरिया गांव का रहने वाला है।गांव के लोगों ने बताया कि वह अपराधियों की संगत में रहता है।पहले भी कई बार मारपीट कर चुका है।