हवालात में बिगड़ी बंदी की तबीयत

Listen to this article

अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में हुई मौत

गोरखपुर। कोर्ट में सरेंडर के बाद कचहरी के हवालात में रखे गए फिरोजाबाद निवासी बंदी की तबीयत बिगड़ गई। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि जेल जाने के डर से बंदी को दिल का दौरा पड़ा था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। रिपोर्ट के बाद ही मौत की सही वजह सामने आएगी।

फिरोजाबाद जिले के शेखूपुर रामगढ़वा निवासी अखिल अहमद उर्फ कलवा पुत्र रशीद खान के ऊपर शाहपुर थाने में 2009 में महिला ने मुकदमा दर्ज कराया था। केस ट्रायल पर आ गया था और आरोपित हाजिर नहीं हो रहा था इसको लेकर कोर्ट से पिछले कई तारीखों से गैर जमानती वारंट जारी हो रहा था।
जेल जाने के डर से पड़ा दिल का दौरा
50 वर्षीय अखिल अहमद शनिवार को कोर्ट में हाजिर होने आया था। गैर जमानती वारंट होने के नाते उसे कस्टडी में लेकर कचहरी के हवालात में डाल दिया गया था। यहां से सभी बंदियों को गोरखपुर मंडलीय कारागार में ले जाने की तैयारी चल रही थी इस बीच अखिल अहमद की तबीयत बिगड़ गई।
बताया जा रहा है कि उसे झटका आने लगा और सांस लेने में दिक्कत होने लगी। वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने लॉकअप से उसे बाहर निकाला और अधिकारियों को सूचना देने के साथ ही तत्काल उसे जिला अस्पताल भेजवाया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।