राजा सिंह के खिलाफ हैदराबाद में अब भी उबाल, हिंसक प्रदर्शन

Listen to this article

हैदराबाद। पैगंबर मोहम्मद पर बयान देने वाले भाजपा के निलंबित विधायक टी. राजा सिंह के खिलाफ हैदाराबाद में अब भी उबाल देखने को मिल रहा है। पुलिस ने उन्हें अरेस्ट कर लिया था लेकिन अदालत से वह जमानत पर रिहा हो गए हैं। उसके बाद हैदराबाद में एक बार फिर से विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। बीती रात कई स्थानों पर एक बार फिर से हजारों की भीड़ उमड़ी और टी. राजा सिंह के खिलाफ सिर तन से जुदा के नारे लगाते हुए प्रदर्शन किया। बता दें कि विवाद बढऩे के बाद भाजपा ने टी. राजा सिंह को निलंबित कर दिया है। इसके अलावा हैदराबाद के कई थानों में राजा सिंह के खिलाफ आपराधिक केस दर्ज किए गए हैं।
सिटी कॉलेज के पास बड़ी संख्या में लोग जुटे थे, जो सिर तन से जुदा के नारे लगा रहे थे। बड़ी मुश्किल से पुलिस ने इन लोगों को हटाया। इस बीच पुलिस ने असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के दो पार्षदों को एहतियातन हिरासत में ले लिया है। इसके अलावा शहर की जामा मस्जिद पर दोपहर की नमाज के वक्त भी भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात रही। इस मामले पर सरकार कितनी संवेदनशील है, इसका अंदाजा इस बात से ही लगा सकते हैं कि जामा मस्जिद के आसपास की व्यवस्था की निगरानी 5 आईपीएस कर रहे थे। शाह अली बंदा, दबीरपुरा, हुसैनीआलम इलाके में बड़ी संख्या में लोग सडक़ों पर उतरे हैं। हालांकि पुलिस की ओर से राजा सिंह के खिलाफ सख्त ऐक्शन लेने की बात कही गई है, जिससे मुस्लिम समुदाय का रोष थोड़ा कम हुआ है। राजा सिंह को जमानत मिलने से गुस्सा भडक़ा हुआ है। हैदराबाद के कई इलाकों में तनाव है और इसके चलते कारोबारी दुकान तक खोलने से हिचक रहे हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि शहर में अमन-चैन को खत्म करने की साजिश रची गई है। हैदराबाद के दक्षिण जोन के डीसीपी पी. साई चैतन्य ने कहा कि हैदराबाद के युवा शांति के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने कहा कि हमने लोगों से अपील की है कि वे किसी भी तरह की साजिश में न फंसें।