आठ नवबंर को लगेगा चन्द्रग्रहण

Listen to this article

नई दिल्ली।सूर्य ग्रहण के बाद अब चंद्र ग्रहण भी लगने वाला है। जैसे दिवाली पर सूर्य ग्रहण लगा था वैसे ही अब देव दिवाली पर चंद्र ग्रहण लगने वाला है। ये साल का आखिरी चंद्र ग्रहण है जो कि 8 नवंबर को लगने वाला है। कई लोगों के मन में सवाल है कि क्या सूर्य ग्रहण की तरह चंद्र ग्रहण भी लोगों के सामान्य जीवन को प्रभावित करता हैं?
सूर्य ग्रहण की तरह चंद्र ग्रहण के भी प्रकार है और 8 नवंबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा। हांलाकि, भारत में यह चंद्र ग्रहण केवल पूर्वी भाग से ही दिखाई देगा और अधिकांश क्षेत्रों में यह आशिंक रूप में देखने को मिलेगा। सूर्य ग्रहण के कारण एक दिन बाद भाई दूज और गोवर्धन पूजा मनाई जा रही है। वैसे ही देव दिवाली भी अब चंद्र ग्रहण के कारण एक दिन पहले मनाई जा रही है।
चंद्र ग्रहण कब लगता है?
जब चंद्रमा धरती की छाया में चला जता है तब चंद्र ग्रहण लगता है। आसान भाषा में समझें तो जब चंद्रमा पूरी तरह से पृथ्वी के गर्भ में आ जाता है तब पूर्ण चंद्र ग्रहण लगता है। बता दें कि पूर्णिमा की रात को ही चंद्र ग्रहण लगता है। 2022 का दूसरा 8 नवंबर को होगा और यह एशिया, ऑस्ट्रेलिया, उत्तरी अमेरिका, उत्तरी और पूर्वी यूरोप के कुछ हिस्सों और दक्षिण अमेरिका के अधिकांश हिस्सों में दिखाई देगा।
बता दें कि साल का पहला पूर्ण चंद्र ग्रहण 15-16 मई को लगा था। इस दिन वैशाख पूर्णमा थी लेकिन इसका प्रभाव भारत में देखने को नहीं मिला था। पहला चंद्र ग्रहण सुबह 7 बजकर 2 मिनट पर लगा था और दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर खत्म हुआ था। पहला चंद्र ग्रहण अमेरिका, अंटार्कटिका, यूरोप, अफ्रीका और पूर्वी प्रशांत के हिस्सों में दिखाई देगा।