डीएमके नेता सादिक ने भाजपा नेत्री को कहा आइटम, मांगी माफी

Listen to this article

नई दिल्ली। द्रविड़ मुनेत्र कडग़म (डीएमके) के नेता सैदाई सादिक ने अपनी उस टिप्पणी के लिए माफी मांगी है, जिसमें उन्होंने अभिनेता से नेता बने भाजपा नेता को आइटम कहा था। भाजपा नेता खुशबू ने ट्विटर पर सांसद कनिमोझी को टैग करते हुए डीएमके नेता की टिपण्णी के का जिक्र किया था। इसके बाद कनिमोझी ने ट्विटर पर माफी मांगी है। द्रमुक नेता सैदाई सादिक ने माफी मांगते हुए कहा कि उनका मकसद किसी को चोट पहुंचाना नहीं था। हालांकि उन्होंने बीजेपी नेताओं पर भी आरोप लगाए। उन्होंने पूछा, तमिलनाडू बीजेपी प्रमुख अन्नामलाई ने डीएमके मंत्रियों को सूअर और जानवर कहा। उन्होंने पत्रकारों की तुलना बंदरों से की। ये भाजपा नेता इस पर बात क्यों नहीं कर रहे हैं? बता दें कि सारा विवाद तब शुरू हुआ जब डीएमके नेता सैदाई सादिक ने तमिलनाडु में भाजपा नेताओं के बारे में अपमानजनक टिप्पणी की। उन्होंने नमिता, खुशबू सुंदर, गौतमी और गायत्री रघुराम को निशाना बनाया। एक जनसभा को संबोधित करते हुए सादिक ने कहा, चारों नेता आइटम हैं। खुशबू का कहना है कि तमिलनाडु में कमल खिलेगा। मैं कहता हूं कि अमित शाह के सिर के बाल भी उग आएंगे, लेकिन तमिलनाडु में कमल के खिलने की कोई संभावना नहीं है। खुशबू ने ट्वीट कर कहा, जब पुरुष महिलाओं को गाली देते हैं, तो यह सिर्फ दिखाता है कि उनकी किस तरह की परवरिश की गई है। किस जहरीले माहौल में उनका पालन-पोषण हुआ है। ये पुरुष एक महिला के गर्भ का अपमान करते हैं। ऐसे लोग खुद को कलैगनार का अनुयायी कहते हैं। क्या यह नया द्रविड़ मॉडल है।? उन्होंने इस ट्वीट में एमके स्टालिन और कनिमोझी को टैग किया था। खुशबू के ट्विटर पोस्ट में टैग किए जाने के बाद कनिमोझी ने डीएमके नेता की टिप्पणी के लिए तुरंत माफी मांगी। उन्होंने लिखा मैं एक महिला और इंसान के रूप में जो कहा गया उसके लिए माफी मांगती हूं। इसे कभी भी बर्दाश्त नहीं किया जा सकता, चाहे किसी ने भी किया हो। जिस पार्टी में वह हैं और मैं इसके लिए खुले तौर पर माफी मांगने में सक्षम हूं। मेरे नेता स्टालिन और मेरी पार्टी द्रमुक इसे माफ नहीं करते हैं।