बलवा व मारपीट के मुकदमे में सुलह के लिए पीड़ित व गवाहों को आरोपी दे रहे धमकी, केस दर्ज

Listen to this article

खोराबार: मारपीट, बलवा के मुकदमे में सुलह करने के लिए पीड़ित व गवाहो को धमकाने का मामला सामने आया है. मुकदमे के वादी बहरामपुर कुसमौल निवासी जीउत गुप्ता की तहरीर पर पुलिस ने बुधवार रात केस दर्ज किया है. पुलिस ने सतराम, बिंदु, बिनीता उर्फ निक्की, इंद्रजीत व रामप्रीत के खिलाफ धमकी देने के आरोप में कार्यवाई की है.

पुलिस को दिए तहरीर में पीड़ित जीउत ने बताया कि 17 मई 2020 को उनके सब्जी के खेत मे रामप्रीत की भैंस घुस गई थी और नुकसान किया था. उनकी बेटी जब उलाहना देने गयी तो रामप्रीत व उनके घर के लोग उसकी पिटाई कर दी. साथ ही घर पर चढ़कर लाठी, डंडा व फरसा से हमला कर उनकी बेटियों, पत्नी आदि को घायल कर दिया था. साथ ही बेटियों से अश्लीलता भी की थी. जीउत की तहरीर पर पुलिस ने उस समय केस दर्ज किया और आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भिजवाया था.
जीउत का कहना है कि वर्तमान में आरोपी राधे उर्फ विनोद,शिवलाल, अभिषेक जेल में हैं. बाकी अन्य आरोपी जमानत पर बाहर हैं. जीउत का कहना है कि 2020 के मुकदमे में इस समय गवाही चल रही है. लिहाजा जमानत पर छूटे आरोपी गवाहो को धमकी दे रहे है साथ ही उनपर भी सुलह का दबाव बनाया जा रहा है. आरोप है कि 25 सितंबर 2022 को पुलिस आरोपियों को अरेस्ट करने गयी और रामप्रीत को गिरफ्तार किया तो सतराम, बिंदु, इंद्रजीत आदि उनके घर चढ़ गए और जन से मारने व आगजनी की धमकी दी. आरोप है कि इससे पहले भी कचहरी के बाहर 30 जुलाई व 17 नवम्बर को भी सुलह की धमकी जी चुकी है. फिलहाल पुलीस केस दर्ज कर जांच कर रही है. इस सम्बंध में इंस्पेक्टर खोराबार कल्याण सिंह सागर ने बताया कि केस दर्ज कर जांच की जा रही है.