हिमाचल: भारी बर्फबारी से बंद हुईं 353 सडक़ें

Listen to this article

शिमला। हिमाचल प्रदेश के ऊपरी क्षेत्रों में लगातार जारी बर्फबारी और बारिश के चलते सामान्य जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। बड़ी संख्या में सडक़ें बंद हो गई हैं और कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति भी बाधित हुई है। मौसम खराब होने के चलते राज्य में 353 सडक़ें बाधित हुई हैं। इसके अलावा 440 ट्रांसफॉर्मर्स के बंद होने के चलते कई इलाकों में बिजली नहीं पहुंच पा रही है। लाहौल-स्पीति में 168 सडक़ें बंद हो गई हैं। इसके अलावा किन्नौर में 62, चंबा में 55, कुल्लू में 51, शिमला में 9 और मंडी में 8 सडक़ें बंद हो गई हैं। इसके चलते मूवमेंट प्रभावित हुआ है और लोगों को अपने घरों में ही बंद रहना पड़ रहा है।
यही नहीं शिमला में घना कुहासा छाए होने के चलते विजिबिलिटी भी प्रभावित हुई है। ऐसे में वाहनों की आवाजाही बेहद धीमी हो गई है। लाहौल स्पीति, किन्नौर, पांगी, बड़ा भंगाल और कुल्लू एवं शिमला के कई ऊपरी इलाकों का संपर्क टूट गया है। हालांकि शिमला का कुफरी-फागू मार्ग पर ट्रैफिक बहाल हो गया है। वहीं शिमला रामपुर और शिमला-रोहड़ू मार्ग से भी बर्फ को हटाकर ट्रैफिक शुरू करायागया है। शिमला के डिप्टी कमिश्नर आदित्य नेगी ने बताया कि शहर के कोठी इलाके में 70 मिलीमीटर बर्फबारी हुई है। इसके अलावा अन्य क्षेत्रों में भी यह आंकड़ा 30 से 12 सेमी तक का रहा है।
मौसम विभाग के अनुसार अभी 10 जनवरी तक बारिश और बर्फबारी का दौर रहने वाला है। ऐसे में भूस्खलन जैसे खतरों को लेकर लोगों को ज्यादा मूवमेंट न करने की हिदायत दी गई है। इसके अलावा दुर्गम इलाकों में आवाजाही से बचने की भी सलाह दी गई है। गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड समेत देश के पर्वतीय इलाकों में बीते कई दिनों से बर्फबारी का दौर जारी है। इसके अलावा अन्य राज्यों में छिटपुट बारिश हो रही है। हालांकि यही समय है, जब बड़ी संख्या में दूसरे राज्यों के पर्यटकों ने बर्फबारी का आनंद लेने के लिए हिमाचल प्रदेश के पर्यटन केंद्रों का रुख किया है।