आईआईटी के एक्सपर्ट ने बताया-कब खत्म होगी कोरोना की तीसरी लहर

Listen to this article

 

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है। आज भी यानी सोमवार को 1.8 लाख नए मामले सामने आए हैं। हालांकि आज रिकवरी भी ठीक रही है। करीब 50 हजार लोगों ने इस महामारी को मात दी है। आईआईटी के एक्सपर्ट्स ने तीसरी लहर की संभावित अवधि के बारे में बताया है।
वहीं आईआईटी कानपुर में गणित और कंप्यूटर विज्ञान के प्रोफेसर मनिंद्र अग्रवाल से जब पूछा गया कि तीसरी लहर का पीक कितना ऊंचा जा सकता है और आपको क्या लगता है कि यह लहर कब तक जारी रहेगी उन्होंने और भी कई सवालों के खुलकर जवाब दिए हैं और यह भी कहा कि तीसरी लहर इस महीने के मध्य में अपने पीक पर पहुंच सकती है। हमारे पास पूरे भारत के लिए प्रयाप्त डेटा तो नहीं है, लेकिन हमारी वर्तमान गणना के अनुसार हम उम्मीद करते हैं कि तीसरी लहर अगले महीने की शुरुआत में चरम पर पहुंच जाएगी। पीक की ऊंचाई वर्तमान में ठीक से नहीं ली जा रही है, क्योंकि पैरामीटर तेजी से बदल रहे हैं। एक अनुमान के रूप में हम एक दिन में चार से आठ लाख मामलों की एक विस्तृत श्रृंखला की भविष्यवाणी करते हैं।
उन्होंने आगे कहा, दिल्ली और मुंबई के ग्राफ जितनी तेजी से ऊपर गए हैं, उतनी ही तेजी से नीचे आने की संभावना है। भारत के अन्य हिस्सों में भी मामले बढ़ रहे हैँ। इसे चरम पर पहुंचने और नीचे आने में एक और महीने का समय लगना चाहिए। मार्च के मध्य तक भारत में महामारी की तीसरी लहर कमोबेश खत्म होने की संभावना है।