टिकट कटने पर खूब रोए भाजपा के पूर्व प्रत्याशी एसके शर्मा

Listen to this article

मथुरा। मांट विधानसभा क्षेत्र से टिकट नहीं मिलने से नाराज भाजपा नेता और केमिकल एंड फर्टिलाइजर्स मंत्रालय के डायरेक्टर एसके शर्मा ने भाजपा का दामन छोड़ दिया। भाजपा छोडऩे की घोषणा करते समय शर्मा बेहद भावुक हो गए और समर्थकों के सामने ही फूट-फूटकर रोने लगे। शर्मा ने आरोप लगाया कि भाजपा में अब केवल लूटने वालों की कद्र है। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने एसके शर्मा को मांट से मैदान में उतारा था। वह करीब 6000 वोटों से चुनाव हार गए थे। इस बार भी वह मांट से चुनाव लडऩे की तैयारी कर रहे थे, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया। टिकट न मिलने से नाराज एसके शर्मा ने दिन में 12.30 बजे अपने समर्थकों को बुलाया। इसके बाद पत्रकारों के सामने शर्मा ने पार्टी छोडऩे की घोषणा कर दी। भाजपा छोडऩे की घोषणा करते समय एसके शर्मा बेहद भावुक हो गए और फूट-फूटकर रोने लगे। उन्होंने कहा कि पार्टी के लिए बहुत कुछ किया, लेकिन पार्टी ने उनके साथ अन्याय किया। शर्मा ने कहा कि हम लोग समर्पित भाव से काम कर रहे थे। कहा कि राम नाम की लूट है, लूट सके तो लूट, अंत काल पछताएगा जब प्राण जाएंगे छूट, यहां केवल लूटने वालों को छूट है।