टीईटी परीक्षा कल, सीएम योगी ने दिया दिशा निर्देश

Listen to this article

 

नई दिल्ली। लंबे इंतजार के बाद आखिरकार कल यानी कि 23 जनवरी को उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा, यूपीटीईटी होने जा रही है। इसके तहत पहली शिफ्ट कल सुबह 10 बजे से शुरू हुई थी। वहीं नवंबर में एग्जाम लीक होने की वजह से परीक्षा कैंसिल हो गई थी। इसके चलते इस बार परीक्षा में सुरक्षा के इंतजाम को और बढ़ा दिया गया है। वहीं एग्जाम में कोई चूक न हो यह सुनिश्चित करने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने खुद हस्तक्षेप किया है और अधिकारियों को परीक्षा में सख्त सुरक्षा व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। वहीं कोविड-19 पॉजिटिव उम्मीदवारों के लिए भी अलग से निर्देश जारी किए गए हैं। इसके मुताबिक, इन उम्मीदवारों को भी परीक्षा देने की अनुमति होगी। लेकिन इनके लिए अलग कमरे में बैठने की सुविधा दी जाएगी। उत्तर प्रदेश के प्राइमरी और अपर प्राइमरी सरकारी में बतौर शिक्षक की नियुक्ति के लिए इस परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवारों के लिए महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश हैं। यूपीटीईटी परीक्षा देने जा रहे उम्मीदवार आइए जानते हैं निर्देश। परीक्षा में देरी से बचने और समय पर जांच कराने के लिए उम्मीदवारों को पेपर शुरू होने से कम से कम 1 घंटे पहले यूपीटीईटी परीक्षा केंद्र पर पहुंचना चाहिए।
परीक्षा में जांच के लिए एक वैलिड फोटो पहचान प्रमाण जैसे आधार कार्ड, पैन कार्ड आदि लेकर जाना होगा।
परीक्षा में नकल, धोखाधड़ी, या पेपर लीक जैसे अनुचित साधनों का उपयोग सख्त वर्जित है। यहां तक कि मुख्यमंत्री कार्यालय ने भी सीएम की ओर से बयान जारी किया है, जो लोग इस तरह के किसी भी साधन में लिप्त पाए जाएंगे, उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। दरअसल, नवंबर में व्हाट्सएप पर पेपर लीक होने के बाद परीक्षा कैंसिल हो गई थी। इसके चलते इस बार सीएम योगी ने खुद मोर्चा संभाला है।