महाराष्ट्र के 12 भाजपा विधायकों का निलंबन रद

Listen to this article

सुप्रीम कोर्ट ने बताया असंवैधानिक

 

 

नई दिल्ली। महाराष्ट्र विधानसभा के 12 विधायकों के निलंबन को सुप्रीम कोर्ट ने रद कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने भाजपा विधायकों के निलंबरन को असंवैधानिक बताया है। भाजपा के 12 विधायकों पर पीठासीन अधिकारी के साथ कथित रूप से दुव्र्यवहार करने के आरोप था।
शुक्रवार को हुई सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने विधायकों के एक साल के निलंबन को असंवैधानिक बताते हुए रद कर दिया।
इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई के दौरान 12 भाजपा विधायकों को एक साल के लिए निलंबित करने पर सवाल उठाए थे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि विधायकों को एक साल तक निलंबित करना निष्कासन से भी बदतर है और ये पूरे निर्वाचन क्षेत्र को सजा देना होगा। जस्टिस एएम खानविलकर और जस्टिस दिनेश माहेश्वरी की बेंच ने मामले की सुनवाई की। गौरतलब है कि निलंबित 12 विधायकों में संजय कुटे, आशीष शेलार, अभिमन्यु पवार, गिरीश महाजन, अतुल भटकलकर, पराग अलवानी, हरीश पिंपले, योगेश सागर, जय कुमार रावत, नारायण कुचे, राम सतपुते और बंटी भांगडिय़ा शामिल थे।