पीएम मोदी ने अखिलेश पर कसा तंज, कहा- सोते रहने वालों को ही आते हैं सपने

Listen to this article

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश, पंजाब और उत्तराखंड समेत पांच राज्यों के चुनाव में आगे भी फिजिकल रैलियों पर रोक रहेगी या फिर अनुमति मिलेगी। चुनाव आयोग की ओर से इस संबंध में आज फैसला लिया जाएगा। पांचों राज्यों में चुनाव की अधिसूचना लागू होने से अब तक फिजिकल कैंपेन नहीं हो सका है। कोरोना की तीसरी लहर फिलहाल कमजोर दिख रही है, लेकिन अब भी चुनाव प्रचार की ओर से फिजिकल कैंपेन को मंजूरी मिलना मुश्किल नजर आ रहा है। इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने डिजिटल कैंपेन की शुरुआत आज से कर दी है। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैंने सुना है कि कुछ लोगों को सपने आते हैं। जो सोते रहते हैं, उन्हें ही सपने आते हैं। इस तरह उन्होंने अखिलेश यादव पर तंज कसा, जिन्होंने भगवान कृष्ण के सपने में आने की बात कही थी। पीएम मोदी ने कहा कि बीते 5 सालों में हमने दोगुने राशन की खरीद एमएसपी पर की है। उन्होंने गन्ना भुगतान के बकाये को चुकाने के लिए भी प्रयास तेज किए हैं। पीएम मोदी ने कहा कि 2017 से पहले किस्तों में किसानों का बकाया चुकाया जाता था। योगी सरकार ने पिछला भी चुकाया और मौजूदा भी दिया। उन्होंने कहा कि पिछले पेराई सत्र का 98 फीसदी भुगतान हो चुका है और मौजूदा सेशन में भी 70 फीसदी तक भुगतान किया जा चुका है।
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि 1857 में कमल और रोटी आंदोलन के प्रतीक बने थे। हमने संकट काल में गरीबों तक रोटी पहुंचाई और अब हम आप तक कमल लेकर आए हैं। भाजपा सरकार ने किस तरह से गरीबों के लिए काम किए हैं, इसका उदाहरण उनके लिए बने घर हैं। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने 5 साल में गरीबों के लिए 73 घर नोएडा में बनाए थे, लेकिन योगी सरकार के दौर में 23 हजार घर बने। वहीं सहारनपुर में 221 बनवाए थे, जबकि योगी सरकार में 18 हजार से ज्यादा घर बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि इसी तरह शामली, मुजफ्फरनगर और बागपत में भी पिछली सरकार ने 5 साल में 800 घर बनाए थे। योगी सरकार ने इन तीन शहरों में 5 सालों में 33 हजार से ज्यादा घर बनाकर दिए हैं।