देश में कोरोना से मौतों का आंकड़ा पांच लाख के पार

Listen to this article

नई दिल्ली। भारत में कोरोना के मामले भले ही कम ज्यादा हुए हों लेकिन मौतों को आंकड़ा कम नहीं हुआ। तीसरी लहर में भी एक दिन में 1100 तक मौतें दर्ज की गईं। गुरुवार को कुल मौतों का आंकड़ा पांच लाख को पार कर गया है। अब भारत दुनिया का ऐसा तीसरा देश है जहां पांच लाख से ज्यादा मौतें हुई हैं।
अमेरिका में कोरोना ने अब तक 9.1 लाख लोगों की जान ले ली। वहीं दूसरे नंबर पर ब्राजील है जहां पर 6.3 लाख लोगों की जान गई। तीसरे नंबर पर भारत है और चौथे नंबर पर रूस है जहां 3.3 लाख लोगों की मौत हो गई। मैक्सिको में भी 3.07 लाख लोगों की मौत हुई है।
भारत में 1 जुलाई 2021 को ही 4 लाख मौतें हो चुकी थीं। इसके बाद अब तक एक लाख मौतें और हो गईं। हालांकि मृत्युदर में कमी देखी गई। दूसरी लहर में सबसे ज्यादा मौतें हुईं। हाला्ंकि यह लहर ज्यादा लंबी नहीं चली। इसी दौरान वैक्सिनेश की भी प्रक्रिया तेज हो गई। दो लाख से तीन लाख मौतों का आंकड़ा पहुंचने में मात्र 26 दिन लगे थे। इसके बाद तीन लाख से चार लाख 39 दिन में हो गए। दिसंबर तक रोज होने वाली मौतों में गिरावट दर्ज की गई। दिसंबर की वजह से एक बार फिर मौतों का आंकड़ा बढ़ा। जहां एक दिन की औसत मौतें 70 पहुंच गई थीं वहीं कुछ ही दिनों में यह 600 हो गई। फिर भी दूसरी लहर की तुलना में मौत बहुत कम थीं।