माया बोलीं- सपा और भाजपा के बीच अंदरुनी मिलीभगत है

Listen to this article

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती यूपी विधानसभा चुनाव-2022 में अपनी पार्टी की हार की लगातार समीक्षा कर रही हैं। मंगलवार को उन्होंने आरोप लगाया कि सपा और भाजपा के बीच अंदरुनी मिलीभगत है। एक ट्वीट में मायावती ने लिखा- यूपी में सपा और भाजपा की अन्दरूनी मिलीभगत जग-जाहिर रही है। इन्होंने विधान सभा आमचुनाव में भी हिन्दू-मुस्लिम कराकर यहां भय और आतंक का माहौल बनाया, जिससे खासकर मुस्लिम समाज गुमराह हुआ और सपा को एकतरफा वोट देने की भारी भूल की। जिसको सुधार कर ही भाजपा को यहां हराना संभव है। दरअसल, बसपा सुप्रीमो को लगता है कि यूपी विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी की हार हिन्दू-मुस्लिम वोटों के ध्रुवीकरण के चलते हुए है। इसके पहले पार्टी की हार पर बोलते हुए उन्होंने कहा था कि मुस्लिम समाज का पूरा वोट बीजेपी को हराने के लिए समाजवादी पार्टी की तरफ शिफ्ट कर गया। बसपा को इसी की सजा मिली।