यूपी में अभी तीन दिन बाद बारिश के आसार, महिलाएं कर रही टोटका

Listen to this article

लखनऊ। आषाढ़ का पूरा महीना बीत गया लेकिन उत्तर प्रदेश वालों को बारिश की एक बूंद भी नसीब नहीं हुई। मॉनसून का इंतजार कर रहे यूपी वाले अब बारिश के लिए पूजा पाठ का सहारा लेने को मजबूर हैं। यूपी के गांव में अब बारिश लाने के लिए टोने-टोटके किए जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक यूपी के कई गांव में महिलाएं बारिश लाने के लिए खेतों में हल जोत रही है।

बारिश लाने का लिए ये पुराना टोटका है जिसमें महिलाएं खेत जोतती हैं। माना जाता है कि ऐसा करने से बारिश होती है। इसके अलावा एक और टोटका है जो गांव वाले बारिश लाने के लिए करते हैं।

जानकारी के मुताबिक इसमें बच्चे लेदा मांगते हैं। इसमें नगर या गांव के कुछ बच्चे घर घर जाकर गाना गाते हैं कि लेदा-लेदा पानी दे, कारे मेघा पानी दे, पानी दे फिर धानी दे.. बैल हैं पियासे. इसे गाते हुए बच्चे गली-गली निकलते हैं। फिर किसी के घर पहुंचेत हैं, जिसके घर जाते हैं वो घर से बाहर निकलकर एक बाल्टी पानी जमीन पर डाल देता है। फिर बच्चे उसी पानी में लोट कर इंद्र देव से पानी बरसाने की प्रार्थना करते हैं।

गौरतलब है कि मॉनसून की कमी के चलते धान रोपने में देरी हो रही है। किसान बारिश ना होने की वजह से काफी परेशान हैं। अब तो पशु के चारे का भी किसानों के सामने संकट खड़ा हो रहा है। किसान सूखे की आशंका से भयभीत हैं। इसी के चलते किसान इंद्र देवता को मनाने के लिए अलग-अलग तरह के टोटके कर रहे हैं। मौसम विज्ञानी का कहना है कि अभी यूपी में बारिश तीन दिन बाद होने की संभावना व्यक्त की जा रही है।