धर्म परिवर्तन: अब्दुल बन गए श्रवण कुमार

Listen to this article

 

फतेहपुर। रेलवे से रिटायर हुए अब्दुल जमील अब श्रवण कुमार के नाम से जाने जाएंगे। अब्दुल ने धर्म परिवर्तन कर लिया। उन्होंने मुस्लिम से हिन्दू धर्म अपना लिया। शहर के पटेल नगर स्थित हनुमान मंदिर में उन्होंने आचार्यो के मौजूदगी और मंत्रोच्चारण के बीच विधि विधान से दीक्षा ग्रहण की। इस दौरान उन्होंने बताया कि उनकी हमेशा से सनातन धर्म में आस्था रही है। हमारे पूर्वज भी राजपूत थे। हालांकि मजीद को अपने स्वजनों के विरोध का सामना भी करना पड़ा। अखिल भारतीय हिन्दू महासभा के प्रांतीय महामंत्री मनोज त्रिवेदी ने बताया कि 65 वर्षीय अब्दुल जमील ने फतेहपुर में रेलवे में मुख्य आरक्षण पर्यवेक्षक के रूप में नौकरी की। अब सेवानिवृत्त हो गए हैं। यह हाथरस, सादाबाद के मूल निवासी हैं। वर्तमान में यह शहर के देवीगंज में रह रहे हैं। इन्होंने सनातन धर्म अपनाने की बात कही तो हनुमान मंदिर में पूजा पाठ के साथ आचार्य पंडित राम लला मिश्रा ने इन्हें दीक्षा दिलाई। अब इनका नाम श्रवण कुमार हो गया है। अब्दुल जमील ने बताया कि उनकी तीन बेटियां एवं एक बेटा है। सनातन धर्म अपनाने की बात पर परिजनों ने काफी विरोध किया लेकिन सनातन धर्म से प्रेरित होकर उन्होंने हिन्दू धर्म अपनाया है।