सीएम योगी के गढ़ में बाघ को बचाने का संकल्प, ‘रन फॉर टाइगर’ में दौड़े गोरखपुर वासी

Listen to this article

विश्व बाघ दिवस के मौके पर गुरुवार को गोरखपुर के लोगों ने बाघ को बचाने का संकल्प लेते हुए रन फॉर टाइगर में दौड़े। गौतम

गोरखपुर। विश्व बाघ दिवस के अवसर पर गुरुवार को पहली बार गोरक्षनगरी वासी राष्ट्रीय पशु ‘बाघ’ को बचाने का संकल्प लेते हुए ‘रन फॉर टाइगर’में दौड़े। गोरखपुर के पैडलेगंज स्थित गौतम बुद्ध प्रवेश गेट से प्राणी उद्यान के रेस्टहाउस तक तकरीबन दो किलोमीटर लम्बी दौड़ को राज्य के अपर प्रमुख वन संरक्षक टाइगर प्रोजेक्ट कमलेश कुमार ने हरी झंड़ी दिखाई। इस दौरान शहरवासियों को उत्साह देखते ही बन रहा था। पहली बार गोरखपुर को 29 जुलाई को मनाए जाने वाले विश्व बाघ दिवस पर अंतरराष्ट्रीय बाघ संरक्षण सेमिनार की जिम्मेदारी मिली है। जागरूकता के लिए आयोजित रन फॉर टाइगर में एपीसीसीएफ प्रोजेक्ट टाइगर कमलेश कुमार, प्राणी उद्यान के निदेशक डॉ एच राजा मोहन, आईएफएस मनोज सोनकर, डीएफओ गोरखपुर विकास यादव, एसडीओ हरेंद्र सिंह, एसडीओ हरिकेश यादव, प्राणी उद्यान के वाइल्डलाइफ विशेषज्ञ डॉ योगेश प्रताप सिंह, हेरिटेज फाउंडेशन गोरखपुर की संरक्षिका डॉ अनिता अग्रवाल ने हरी झंड़ी दिखा कर रवाना किया।
सीएम योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को कार्यक्रम में होंगे शामिल
शुक्रवार को महायोगी बाबा गंभीरनाथ प्रेक्षागृह एवं संस्कृति केंद्र में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, फिल्म अभिनेता रणदीप हुड्डा, वन एवं जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ अरुण कुमार सक्सेना समेत अन्य मंत्री, सांसद एवं विधायक शामिल होंगे। इसी दिन मुख्यमंत्री सफेद बाघिन गीता को शहीद अशफाक उल्ला खॉ प्राणी उद्यान में बाड़ा प्रवेश करा दर्शकों के दर्शनार्थ उपलब्ध कराएंगे।
इस कार्यक्रम में पशु चिकित्सक डॉ रवि यादव, रेंजर राजेश पाण्डेय, चंद्र भूषण पासवान, प्रशासनिक अधिकारी राजीव श्रीवास्तव, वन दरोगा रोहित सिंह, हेरिटेज फाउंडेशन के ट्रस्टी नरेंद्र मिश्र, अनुपमा मिश्रा, वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर अनिल कुमार तिवारी, मनीष चौबे, हेरिटेज वारियर्स की संयोजिका मल्लिका मिश्रा, हेरिटेज एवियंस के संयोजक वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर अनुपम अग्रवाल, मोनिका पाण्डेय, महेंद्र सिंह, रीतेश मिश्रा, बाल रोग विशेषज्ञ डॉ नरेश अग्रवाल, सेंट जेवियर्स स्कूल के प्रबंधक शिवानंद दुबे, प्रधानाचार्य रत्नमणि पाण्डेय, शिक्षिका प्रिया शुक्ला, संध्या शर्मा, शुभम श्रीवास्तव, अमित श्रीवास्तव, दिलीप त्रिपाठी, प्रीति तिवारी, अखिलेश गुप्ता, रागिनी पाण्डेय, कृष्ण कुमारी शुक्ला, सुनील कुमार, निर्भय मिश्रा, एसएसबी, पुलिस समेत 500 से अधिक लोग शामिल हुए। कार्यक्रम को सफल बनाने में ट्रेफिक पुलिस और पुलिस विभाग ने सहयोग किया।

दो किलोमीटर तक रन फॉर टाइगर
गौतमबुद्ध द्वार से शहीद अशफाक उल्ला खॉ प्राणी उद्यान के रेस्टहाउस तक तकरीबन दो किलोमीटर एरिया में लोगों ने दौड़ लगाई कुछ लोग पैदल भी चले। सुबह 7 बजे से 8.30 बजे तक चले कार्यक्रम में हर उम्र वय के लोग शामिल हुए। दिल्ली पब्लिक स्कूल, गोरखपुर पब्लिक स्कूल, माऊंट लिट्रा जी स्कूल, सेंट जेवियर्स स्कूल समेत तमाम स्कूल के छात्र-छात्राएं चेहरे पर बाघ का मुखौटा लगा कर कार्यक्रम शामिल हुए। लोगों क हाथों में रन फॉर टाइगर के होडिंग लिए और सिर पर वन विभाग की कैप लगा लोगों ने दौड़ लगाई।
सेल्फी प्वाइंट पर लोगों ने ली सेल्फी
रन फॉर टाइगर के शुरूआत और अंत में सेल्फी प्वाइंट बनाया गया था जहां पर लोगों ने सेल्फी लेकर सोशल मीडिया के जरिए सेव द टाइगर और रन फॉर टाइगर का मैसेज दिया।