किसी ने सामने आकर यह नहीं कहा कि उन्होंने मांगी थी रिश्वत

Listen to this article

नई दिल्ली। करोड़ों रुपए के पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग भर्ती अनियमितताओं के घोटाले में गिरफ्तार बंगाल के पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी मामले में कई नई जानकारी सामने आ रही हैं। इस बीच, पार्थ चटर्जी के वकील ने कहा कि किसी ने सामने आकर यह नहीं कहा कि उन्होंने रिश्वत मांगी थी, न तो सीबीआइ मामले में और न ही ईडी में। क्या वे कोई गवाह दिखा सकते हैं कि उसने रिश्वत मांगी है? पार्थ चटर्जी अपराध से जुड़े नहीं हैं और सीबीआइ द्वारा लगाया गया आरोप उचित नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ईडी मामले में 22 जुलाई को जब उनके घर पर छापा मारा गया तो कुछ भी बरामद नहीं हुआ। यदि आप किसी ऐसे व्यक्ति से पूछने की कोशिश करते हैं जो अपराध में शामिल नहीं है, तो वह स्पष्ट रूप से असहयोगी होगा।